• 03:24 pm
news-details
हेल्थ

गैर संचारी रोगों की जांच के लिए जिला स्तरीय कार्यक्रम

अभिनव इंडिया/साहिल
गुरुग्राम।
देश में होने वाली 60 प्रतिशत मौत का कारण बनने वाली प्रमुख बीमारियां कैंसर, डायबिटीज व ह्रदय रोग की समय रहते जांच के लिए गुरुग्राम में जिला स्तरीय जांच कार्यक्रम की शुरुआत गांव दौलताबाद से की गई ।
कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए सिविल सर्जन डॉ वीरेंद्र यादव ने बताया कि देश में हर साल काफी संख्या में लोग गैर संचारी बीमारियों से ग्रस्त होकर अपना जीवन त्याग देते है। अगर ऐसे लोगों की समय रहते जांच कर सही ढंग से उपचार किया जाए तो उनके जीवन को बचाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कई बार शरीर मे महसूस होने गैर जरूरी लक्षणों को हम जाने अनजाने में नजरअंदाज कर देते है। कुछ समय के बाद जब हम डॉक्टरी परीक्षण करवाते है तब तक वह लक्षण गंभीर बीमारी का रूप धारण कर नियंत्रण से बाहर हो जाते है। इसलिए यह जरूरी है कि हमे समय समय पर अपने शरीर की उचित मेडीकल जांच अवश्य करानी चाहिए।
इस पूरे जांच अभियान की कमान संभाल रही उप सिविल सर्जन डॉ ईशा नारंग ने कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ऐसी बीमारियां जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति  में नहीं फैलती ऐसी बीमारियों को स्वास्थ्य विभाग ने  गैर संचारी रोगों की श्रेणी में रखा है। जिसमे हाइपरटेंशन,ब्लड प्रेशर,डायबिटीज व कैंसर आदि प्रमुख है। उन्होंने कहा कि यह ऐसी बीमारियां है जिनकी समय रहते जांच करा उचित उपचार किया जाए तो इनसे जीवन का बचाव संम्भव है। इन्हीं परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने दौलताबाद गांव से इस जांच कार्यक्रम की शुरुआत की है।
डॉ ईशा ने कहा कि यह कार्यक्रम गुरुग्राम में जिला स्तर पर चलाया जाएगा। जिसमे प्रत्येक नागरिक में इन रोगों की जांच की जाएगी। यदि किसी भी नागरिक की स्वास्थ्य जांच में इन बीमारियों के लक्षण पाए जाते हैं तो उनको सही परामर्श देकर अनुभवी डॉक्टरों की निगरानी में उचित उपचार भी किया जाएगा।
उन्होंने कहा कोई भी व्यक्ति जिनको अपने शरीर में इन बीमारियों से संबंधित किसी भी प्रकार के लक्षण महसूस होते हैं। तो वह नजदीकी नागरिक अस्पताल में जाकर अपना चेकअप करा कर इसका उचित उपचार करवा सकते हैं।
दौलताबाद में शुरू हुए जांच कार्यक्रम में करीब 200 लोगों का डायबिटीज, कैंसर व बीपी का चेकअप किया गया। इस अवसर पर सिविल सर्जन डॉ वीरेंद्र यादव ने कोरोना काल में अपनी सेवाएं देते हुए उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित भी किया।

You can share this post!

Comments

Leave Comments