• 12:25 am
news-details
शख्सियत

युवाओं के लिए प्रेरणा बनकर उभरे हैं सत्यम उपाध्याय

अभिनव इंडिया/रंजीता आर्या
नई दिल्ली।
यंगेस्ट प्रोफेशनल सिंगर ऑफ द वल्र्ड अवार्ड से नवाजे जा चुके गुरुग्राम के सत्यम उपाध्याय युवाओं के लिए प्रेरणा बनकर उभर रहे हैं। 15 वर्ष की आयु में सत्यम न केवल देश, अपितु विदेशों में भी अपनी बेहतरीन प्रस्तुति दे चुका है। उन्हें अब तक चार वर्ल्ड रिकॉर्ड संस्थाओं असिस्ट वर्ल्ड  रिकार्ड्स, वर्ल्ड  रिकार्ड्स इंडिया, चिल्ड्रन रिकॉर्ड ऑफ इंडिया द्वारा यंगेस्ट प्रोफेशनल सिंगर ऑफ द वर्ल्ड  अवार्ड से नवाजा जा चुका है। इसके अलावा कई राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं द्वारा पुरुस्कृत किया जा चुका है। उन्होंने जहां पंजाबी गीत फेसबुक दा कीड़ा से धूम मचा दी थी, वहीं तेनु नजर न लगे टच वुड नी गीत भी युवाओं द्वारा पंसद किया जा रहा है। सत्यम का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजनाओं को लेकर मोदी बने महान गीत भी गाया है। वह नेशनल ह्यूमन वेलफेयर काउंसिल द्वारा सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों में चलाई जा रही हुनर इंडिया में निर्णायक व मोटिवेटर की भूमिका निभा रहे हैं। उनका कहना है कि हर बच्चा यूनिक है, वह अपनी प्रतिभा को पहचाने और आगे बढ़ें। अभिभावकों को चाहिए कि वे अपने बच्चों का साथ दें। सत्यम के पिता नरेंद्र उपाध्याय व माता डा. सविता उपाध्याय का कहना है कि सत्यम  पूरी मेहनत व लगन के साथ गाने का अभ्यास करते हैं।  

You can share this post!

Comments

  • Umashankar shukla , 2019-11-15

    Bahut sundr awaj h lovely va sweet bhi h

Leave Comments