• 09:55 pm
news-details
राजनीति

भाजपा के कुशासन से निजात चाहते हैं प्रदेश के लोग: सैलजा

अभिनव इंडिया/तेजवंत शर्मा
गुरुग्राम।
हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद कुमारी सैलजा और पूर्व मुख्यमंत्री व हरियाणा कांग्रेस विधायक दल के नेता चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने पार्टी कार्यकत्र्ताआें के साथ आगामी विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी की रणनीति को सांझा किया। गुडग़ांव में आयोजित पहले कार्यकर्ता सम्मेलन में गुडग़ांव लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के सभी नौ विधान सभा हलकों के नेताआें व कार्यकत्र्ताआें ने भाग लिया। इस अवसर पर कुमारी सैलजा ने कहा कि सोनिया गांधी व राहुल गांधी के नेतृत्व में हरियाणा में कांग्रेस पार्टी एकजुट होकर कार्यरत हंै। राज्य की भाजपा सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है, भाजपा के पांच साल के कुशासन से राज्य के लोग मुक्ति चाहते हैं। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में हरियाणा में विकास का कोई भी कार्य नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि गुडग़ांव का विकास प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के कार्यकाल से शुरू हुआ था परंतु भाजपा सरकार ने इसे उजाडऩे में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी। इस शहर की लगभग तीन सौ औद्योगिक इकाईयां बंद हो चुकी हैं। जिसके कारण बेरोजगारी में बेतहाशा वृद्धि हुई है। कुमारी सैलजा ने कहा कि भू-माफिया पर नियंत्रण न होने के कारण अरावली पहाडिय़ों की जमीन की लूट-खसूट जारी है। भाजपा सरकार ने गुडग़ांव को स्मार्ट सिटी बनाने की बात तो की परंतु इस शहर में कोई एेसा काम नहीं हुआ जिससे यह सिटी स्मार्ट सिटी बन सके। वहीं चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की सरकार ने कर्मचारियों को पंजाब के समान वेतनमान देने और गरीबों को प्लाट देने के जो फैसले किए थे, भाजपा सरकार ने उन्हें रद्द कर दिया था। कांग्रेस पार्टी सत्ता में आने पर ये दोनों फैसले फिर से लागू करेगी। उन्होंने कहा कि अनूसूचित जातियों के छात्रों की छात्रवृति में भी वृद्धि की जायेगी। भाजपा सरकार ने इन छात्रवृतियों के वितरण में भारी धांधली की है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के शासनकाल में हरियाणा प्रगति की दृष्टि से देशभर में पहले नंबर पर था परंतु भाजपा के कुशासन के कारण हरियाणा अब बेरोजगारी में देश में पहले नंबर पर है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था की स्थिति दिन प्रति दिन बिगड़ती जा रही है। आम जनता, विशेषकर महिलायें अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रही हैं। कार्यकर्ता सम्मेलन में अन्य नेताआें ने भी अपने विचार रखे और संकल्प लिया कि जन-विरोधी खट्टर सरकार को उखाड़ फेंकेगे और कांग्रेस पार्टी को फिर सत्ता में लायेंगे। वहीं पत्रकारों से बातचीत में दोनों नेताओं ने कहा कि पांच वर्ष पूर्व लोगों से धोखा करके भाजपा ने सत्ता हथियाने का काम किया था। भाजपा ने नोटबंदी, गलत ढंग से जीएसटी लागू करके और अब मोटरगाड़ी कानून जैसी व्यवस्थायें लागू करके जनता को भारी वित्तीय कठिनाइयों में डाल दिया है। उन्होंने भाजपा सरकार को प्रोपेगंडा सरकार बताते हुए कहा कि प्रगति सडक़ों के किनारे लगे हुए भाजपा के बड़े-बड़े हार्डिंग दिखाई देती हैं परंतु धरातल पर ठोस रूप में कुछ भी नहीं है। भाजपा सरकार ने लोगों को अपने विचार व्यक्त करने पर भी अघोषित पाबंदी लगाई हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के घोषणा पत्र राज्य के लोगों की राय जानकर प्रारूप तैयार किया जायेगा और उसमें जो वादे किये जायेंगे उन्हें पूर्णतया लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी के सभी नेता सभी भेदभाव भुलाकर एकजुट होकर चुनाव लड़ेंगे और भाजपा की कुचालों को नाकाम करेंगे। इस अवसर पर पूर्व मंत्री राव धर्मपाल, कै. अजय सिंह, सुखबीर कटारिया, पूर्व डिप्टी स्पीकर आजाद मौहम्मद, धर्मबीर गाबा, मामन खान इंजीनियर, आफताब अहमद, मौ. इलियास आदि नेता भी मौजूद थे। कार्यकर्ता सम्मेलन में सुभान खान, एजाज खान, खुर्शीद, शहीदा खान, महाराज सिंह, सतबीर खटाना, सतबीर बुर्जर, प्रदीप खटाना, विरेंद्र यादव, जितेंद्र राणा, आशीष दुआ, गजे खटाना, सीमा पाहुजा, मनीष खटाना, सतपाल, भीम सिंह यादव, अमित यादव, राहुल राव, सुशील भारद्वाज टूल्लर, सुनीता सहरावत, रेनू पोसवाल, शांति देवी, सुधीर चौधरी, रोहताश बेदी, महादेव शर्मा, खजान सिंह, विपिन्न खन्ना, कुलराज कटारिया, मुकेश शर्मा, महाताब अहमद, मनोज भारद्वाज, वर्धन यादव, एमएल रंगा, जसवंत बावल सहित शामिल रहे। इस अवसर पर पूर्व लोकसभा उम्मीदवार अहसान अली और रिटायर्ड एडीजीपी आरसी जोवल कांगे्रस में शामिल हुए। 

You can share this post!

Comments

Leave Comments