• 12:09 am
news-details
क्राइम

नामी गैंगस्टर अशोक राठी को गोलियों से भूना, मौत

अभिनव इंडिया/वेद वशिष्ठ
गुरुग्राम।
प्रदेश के नामी गैंगस्टर अशोक राठी को तीन बदमाशों ने उसके घर में गोलियों से भून डाला। गंभीर हालत में घायल अशोक राठी की दोपहर मेदांता अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने हमलावरों को पकडऩे के लिए टीम का गठन कर दिया है। उत्तर प्रदेश के कॉन्स्टेबल को शराब पिलाकर बेहोश करने के बाद कस्टडी से फरार हुए अशोक राठी अपने परिजनों के साथ घर गांव अलिपुर में था। शनिवार की सुबह तीन अज्ञात युवक उसके घर पहुंचे और गैंगस्टर पर गोलियां बरसा दी। दो गोली अशोक राठी के सीने पर तथा एक गोली कमर पर लगी थी। नाजुक हालत में अशोक राठी को तुरंत गुरूग्राम के पार्क अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालत बिगडऩे पर उसे मेदांता अस्पताल में रैफर कर दिया गया। जहां उपचार के दौरान दोपहर बाद 3 बजकर 10 मिनट पर उसकी मौत हो गई।
गैंगस्टर अशोक राठी पर मर्डर, मर्डर की कोशिश, लूट, डकैती और फिरौती जैसे 26 से ज्यादा संगीन अपराध के मामले दर्ज हैं। तीन साल पहले 2 सितंबर, 2016 को सेंट्रो कार में आए हमलावरों से अपनी पत्नी सुषमा पर ताबड़तोड़ फायरिंग करवाकर हत्या करवा दी थी। अशोक राठी पर अपनी पत्नी के अलावा, सास और साले की हत्या करवाने का भी आरोप है। पुलिस के मुताबिक, अगस्त 2011 में ससुराल की प्रॉपर्टी हथियाने के लिए अशोक ने अपने साले और सास की हत्या कराई थी। वहीं उत्तर प्रदेश में एक हत्या के मामले में गैंगस्टर अशोक को 10 साल की सजा सुनाई थी। 24 मार्च, 2014 को यूपी पुलिस राठी को कोर्ट में पेश करने गुडग़ांव लाई थी। लेकिन एक होटल पर कॉन्स्टेबल को शराब पिलाकर वह फरार हो गया था। भोंडसी थाना प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप कुमार ने बताया कि अशोक राठी को सुबह करीब आठ बजे गोली मारी गई थी। घायल अवस्था में उसे तुरंत गुरूग्राम के पार्क अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से हालत बिगडऩे पर उसे मेदांता अस्पताल में रैफर कर दिया गया था।
 

You can share this post!

Comments

Leave Comments