विस्तार

अभिनव इंडिया/ राजीव बंसल
फरीदाबाद।
जाट आरक्षण संघर्ष समिति के नेतृत्व में जाट समुदाय के लोग भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के हरियाणा दौरे का विरोध कर अपनी नाराजगी जताएंगे। इसको लेकर जाट आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारियों की बैठक सीही गांव में हुई। जिसमें जिलाध्यक्ष कुलवीर अत्री, बबलू हुडडा दयालपुर ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने जाट समुदाय के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है। जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश महासचिव मलिक की उपस्थित में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने कई बार जोर देकर कहा था कि मात्र कुछ महीनों में ही जाट समुदाय के आरक्षण की मांग को पूरा कर दिया जाएगा और इसके लिए कमेटी का गठन कर दिया गया है।  इस प्रकार की बातें कई बार की गई, लेकिन उसका परिणाम कुछ नहीं निकला। इस बात से हरियाणा प्रदेश का जाट समुदाय के लोग भाजपा के खिलाफ है। यह कोई राजनैतिक लड़ाई नहीं है यह अपने हक के लिए लड़ रहे हैं। सरकार को जाटों के आरक्षण के हक को दे देना चाहिए। आगामी 15 फरवरी को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के समक्ष प्रदेश का जाट समुदाय शांति पूर्वक अपनी मांग को रखेगा और प्रदेश सरकार की वायदाखिलाफी के खिलाफ नाराजगी जाहिर की जाएगी। इस अवसर पर मा. महेंद्र, महावीर, देशराज, वीरेंद्र मान, देवी लांबा, जवाहर, नाहरसिंह धारीवाल, सूरजफौगाट, देवेंद्र लटकन, देवीसिंह तेवतिया ने भी अपने विचार रखे और कहा कि फरीदाबाद जिले से जींद के लिए भारी संख्या में जाट समुदाय के लोग पहुंचेंगे। इसके लिए रूपरेखा तैयार कर जिम्मेवारी सौंपी गई है। बैठक में इनैलो नेता देवी ङ्क्षसह तेवतिया ने भी पार्टी का समर्थन जाट आरक्षण संघर्ष समिति को दिया। 

 

सम्बन्धित न्यूज़

ताज़ा ख़बरें और सटीक विश्लेषण के लिए Subscribe करें